• शनिवार, 26 नवंबर, 2022
कोर्पोरेट मानदंडों के पालन की जगह नैतिक व्यवहार अधिक महत्वपूर्ण: दीपक पारेख   
व्यापार हिंदी द्वारा |

नई दिल्ली । देश के जाने माने बैंक और एचडीएफसी के चेयरमैन दीपक पारेख ने 17 नवम्बर 2022 को कॉरपोरेट संचालन के मानदंडों को सरल बनाने पर जोर दिया जोकि अनुपालन से अधिक भरोसे पर केद्रित हों।उन्होंने कहा कि अर्थशास्त्र और नैतिकता विरोधाभासी नहीं बल्कि एक दूसरे के पूरक हैं । उन्होंने कहा कि प्रत्येक वित्तीय संकट के पीछे एक प्रशासनिक विफलता होती है बहरहाल इससे पूरी प्रणाली प्रभावित होती है।हर बार किसी कॉरपोरेट या वित्तीय संकट का मतलब है कि नियमों और विनियमों को और सख्त किया जाए जो कि सभी के लिए अनुपालन बढेगा।उन्होंने कॉरपोरेट प्रशसासन पर आयोजित मुंबई में एक कार्यक्रम में कहा कि मूल मकसद यह होना चाहिए कि कॉरपोरेट संचालन प्रणाली सरल हो।उन्होंने कहा कि इन मानदंडों के अनुपालन पर अधिक जोर देने के बजाय विश्वास और नैतिक व्यवहार को अधिक महत्व दिया जाना चाहिए। 

Read More
हेडलाइंस