• शुक्रवार, 03 फ़रवरी, 2023
नाईटी सुस्त लेकिन क्रेज बरकरार
व्यापार हिंदी द्वारा | | Views - 11

हमारे संवाददाता 

बालोतरा। दिसावरी मंडियों में तैयार माल की मांग भले ही कम हो पर माल की चालानी बरकरार है। उत्पादकों का कहना है कि ग्रे क्लॉथ की आपूर्ति में विस्कोस आ जाने से उस माल को न भेजने की उनकी मजबूरी है। इससे चालानी का जो क्रम है वह स्वत: ही आंशिक बन गया है। छोटे उत्पादकों के समक्ष यह बड़ी समस्या है कि विस्कोस के माल से कैसे छुटकारा पायें। प्राप्त समाचारों के अनुसार अब ग्रे क्लॉथ में पहले से कम मात्रा में विस्कोस आना शुरू हुआ है। स्थानीय उत्पादक अपने स्तर व गुणवत्ता को कायम रखने हेतु विशेष क्रियाशील होने से उनके सामने यह बड़े नुकसान का कारण बन जाता है।  

Read More
हेडलाइंस
कंपनी समाचार
और समाचार पढ़ें