• बुधवार, 17 जुलाई, 2024

गुड और सिम्पल टैक्स कब ?

जीएसटी के छोटे नाम से जाना जाता गुड्स एण्ड सर्विस टैक्स सात वर्ष पहले अमल में आया तब सुधारवादी अर्थशात्रियों ने आलोचना करते हुए कहा कि इसका मूल ढकंचा `एक देश एक टैक्स' के आदर्श से कोसों दूर है। सभी चीज-वस्तुओं और सेवाओं पर पूरे देश में एक ही समान दर टैक्स लगे तप व्यापार-धंधे-उद्योग चलाना आसान होगा और एक राष्ट्रव्यापी परिदृश्य बाजार में गठित होगा और इसका विराट कद ही आर्थिक गतिविधियों को प्रोत्साहन देने का काम करे। हमारे यहां जीएसटी अमल में है और....