• रविवार, 14 अप्रैल, 2024

वर्तमान सफल अर्थव्यवस्था 1991 से चल रहे आर्थिक सुधारों का परिणाम है

अर्थव्यवस्था की स्थिति पर मोदी सरकार द्वारा जारी श्वेत पत्र पर एक नजर देखे तो शेक्सपियर के प्रसिद्ध उदाहरण की याद दिलाता है: यह महिला सबसे अधिक दिखावा कर रही है। श्वेत पत्र में अर्थव्यवस्था के घोर कुप्रबंधन (2004-14) के लिए यूपीए सरकार की आलोचना की गई है और एनडीए के कार्यकाल (2014-24) की जमकर तारीफ की गई है।