• रविवार, 14 अप्रैल, 2024

उत्साहजनक आय वृद्धि 

प्रत्यक्ष कराधान की आय में हुई वृद्धि उत्साहजनक है। 10 जनवरी तक सरकार को प्रत्यक्ष कराधान से 14.70 लाख करोड़ रुपए की शुद्ध आय हुई थी, जो गत वर्ष की तुलना में 19.41 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाता है। इस वर्ष मुद्रास्फीति घटेगी और विकास मंद पड़ेगा इस धारणा से बजट में कराधान की कुल मात्र 10.5 प्रतिशत बढ़ने का सतर्कता भरा अनुमान लगाया था। यह रकम बजट के पूरे वर्ष के लिए लक्ष्यांक का 81 प्रतिशत जितना है। यह देखते हुए वास्तविक आय 18.2 लाख करोड़ के बजट के अनुमान को पार कर जाने की संभावना है। कॉर्पोरेट टैक्स की आय मंद शुरुआत के बाद सुधरती जा रही है।