• रविवार, 14 अप्रैल, 2024

मंदी की मार : जरी का कामकाज घटकर निम्न स्तर पर 

कपड़ा उद्योग में कामकाज सुधरने पर जरी का काम जोर पकड़ेगा

सूरत की जरी देश और दुनिया भर में प्रख्यात है। गत वर्ष जीएसटी काउंसिल ने प्रत्येक प्रकार की इमिटेंशन जरी पर जीएसटी दर घटाकर एक समान पांच प्रतिशत करने से सूरत के जरी उद्योग को राहत होगी ऐसा संकेत था। लेकिन कपड़ा उद्योग में चल रही मंदी के कारण रियल और इमिटेंशन दोनों जरी के धंधे को भारी असर हुआ है। कामकाज लगभग घटकर आधा होने की जानकारी जरी के व्यवसायियों ने दी।