• गुरुवार, 30 मई, 2024

पेटीएम पर चला चाबुक  

रिजर्व बैंक ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक का वास्तव में कारोबार बंद करने का आदेश दिया है। बैंकिंग नियम ने 31 जनवरी को पेटीएम बैंक को तात्कालिक असर से नए ग्राहकों को जोड़ना बंद करने का आदेश दिया था। 29 फरवरी के बाद उनके ग्राहकों को सेविंग्स अथवा करंट एकाउंट, वॉलेटस, फास्टटेग्स, प्री-पेइड इंस्टूमेंट्स के एनसीएमसी (नेशनल कॉमन मोबिलिटी फॉड्रर्स) में कोई भी नई डिपॉजिट को स्वीकार करने, क्रेडिट ट्रान्जेक्शन करवाने के प्रमुख एप्स की की मनाही कर दी है। मात्र ब्याज, कैशबैक या रिफंड ही किया जाएगा और ग्राहक शेष राशि रहने तक अपने खाते से निकासी आदि कर सकेंगे।

रिजर्व बैंक ने इस सख्त कदमों के बारे में विस्तृत कारण बताने से मना किया है। उसने तर्क दिया है कि अनुपालन में लगातार विफलता और गंभीर नियामक चिंताओं के कारण ऐसा करना आवश्यक था। जानकारों के अनुसार चिंता का सबसे बड़ा कारण केवाईसी मानदंडों का बड़े पैमाने पर उल्लघंन किया जाना था। कई खातों में पैन नंबर प्रमाणित नहीं किए गए थे। ऐसे हजारों मामले थे जहां एक ही पैन का उपयोग करके सौ से अधिक खाते खोले गए थे।