• रविवार, 14 अप्रैल, 2024

भारत की अर्थव्यवस्था में एआई का होगा पांचवा हिस्सा : नाडेला

20 मिलियन लोगों को एआई स्किल सिखाएगा माइक्रोसॉफ्ट

नई दिल्ली : माइक्रोसॉफ्ट के चेयरमैन और मुख्य कार्यकारी अधिकारी  सत्या नाडेला ने आज यानी 7 फरवरी को मुंबई में माइक्रोसॉफ्ट सीईओ कनेक्शन प्रोग्राम  में टॉप इंडियन सीईओ को संबोधित करते हुए भारत की आर्थिक वृद्धि  की जमकर प्रशंसा की और ऑर्टिफिशियल इंटेलिजेंस  को दुनियाभर में फैलाने की वकालत की।

उन्होंने कहा कि ऑर्टिफिशियल इंटेलिजेंस  एक ऐसी पावरफुल टेक्नोलॉजी है जिसको पूरी दुनिया में फैलाने की जरूरत है क्योंकि इसके जरिये दुनियाभर के देशों में आर्थिक समानता लाई जा सकती है।

भारत के टॉप सीईओ को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि एआई के नियमों और मानदंडों  को लेकर भारत और संयुक्त राज्य अमेरिका  को मिलकर काम करना चाहिए। ग्लोबल टेक्नोलाजी की दिग्गज कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ नाडेला एआई पर अमेरिका और भारत के बीच सहयोग पर एक सवाल का जवाब दे रहे थे। उन्होंने इस दौरान ऐलान किया कि माइक्रोसॉफ्ट 2025 तक भारत में 20 लाख (2 मिलियन) लोगों को एआई स्किल प्रोवाइड कराएगा।

 सत्या नाडेला मे कहा, ‘भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाला बाजार  है। सरकार और आप सभी की काफी ज्यादा महत्वाकांक्षाएं हैं कि 2025 तक क्या होने वाला है और सकल घरेलू उत्पाद की ग्रोथ का कितना प्रतिशत एआई से आएगा, तो यह हमारे लिए ट्रैकिंग के लायक होगा।

सरकारी आंकड़ों का हवाला देते हुए नाडेला ने कहा कि भारत की सकल घरेलू उत्पाद 2025 तक 5 ट्रिलियन डॉलर (5 लाख करोड़ डॉलर) तक पहुंचने की उम्मीद है, जिसमें से 500 बिलियन डॉलर (अरब डॉलर) का योगदान एआई करेगी।