• मंगलवार, 05 मार्च, 2024

टोयोटा तीसरे संयंत्र के लिए रु.3,300 करोड़ करेगी निवेश

बेंगलुरु। जापान मुख्यालय वाली वैश्विक ऑटो प्रमुख टोयोटा ने भारत में अपने परिचालन के 25 वें वर्ष का जश्न मनाते हुए कहा है कि वह देश में अपना तीसरा मैन्युफैक्चरिंग संयंत्र स्थापित करने के लिए अतिरिक्त रु.3,300 करोड़ का निवेश करेगी।

निवेश इसकी भारतीय शाखा टोयोटा किर्लोस्कर मोटर (टीकेएम) के माध्यम से किया जाएगा और नए संयंत्र की वार्षिक क्षमता एक लाख इकाइयों की होगी, जो 2026 तक चालू होने की उम्मीद है।

नई इकाई बेंगलुरु के बिदादी में मौजूदा टीकेएम के 432 एकड़ के विशाल परिसर में स्थित होगी और प्रत्यक्ष रोजगार में अतिरिक्त 2,000 नौकरियां पैदा करेगी। इस अतिरिक्त निवेश के साथ, टीकेएम ने कहा कि उसने भारत में संचयी रूप से रु.16,000 करोड़ का निवेश किया है।

कंपनी ने इकाई स्थापित करने के लिए मंगलवार को कर्नाटक सरकार के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

टोयोटा ने 1997 में भारत में प्रवेश किया और दिसंबर 1999 में अपनी पहली मैन्युफैक्चरिंग सुविधा और 2010 में दूसरा संयंत्र चालू किया। वर्तमान में, यह अपने दो संयंत्रों में प्रति वर्ष 3,42,000 कारों का उत्पादन करती है और 11,500 लोगों को रोजगार देती है।