• शनिवार, 22 जून, 2024

सिंहासन, मंगलमूर्ति और इको-फ्रेंडली बप्पा के स्वागत हेतु तैयार भक्त  

हमारे संवाददाता

कोल्हापुर गौरी-गणपति के आगमन की, गौरी-गणपति की सजावट के लिए रेडीमेड मखार बाजार में गए हैं और उपभोक्ता आकर्षक मखार खरीदने में रुचि दिखा रहे हैं। गौरी-गणपति का आगमन ग्वालों के बाद से हर किसी का पसंदीदा त्योहार है। कोल्हापुर में कुछ ही दिनों में आने वाले गणेशोत्सव की तैयारियां चल रही हैं। अपने प्यारे बप्पा के स्वागत के लिए बाजार सज गए हैं। जबकि इस समय बाजार में बडे पैमाने पर कारोबार की उम्मीद व्यापारियोने की है। 

पहले साड़ियों का उपयोग मखर को सजाने के लिए किया जाता था। लेकिन, अब बाजार में मखर के लिए तैयार पर्दे गये हैं। गणेशोत्सव के लिए नागरिक पर्यावरण-अनुकूल सजावट करते हैं। इनमें कपड़े से बनी मखर की मांग सबसे ज्यादा थी। लेकिन, इस साल बाजार में कई तरह के इको-फ्रेंडली मखार अधिक जानकारी के लिए हमारा ई-पेपर पढ़ें